सपा ने बनवाए थे 'लवर्स पार्क', बीजेपी लगाएगी 'प्यार पर पहरा': डिंपल यादव का दावा - Aapki Awaaz

Breaking

आपकी आवाज़ वेब न्यूज़ पोर्टल व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 94251590730 पर व्हाट्सएप्प करें.....प्रदेश, संभाग, जिला, तहसील और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

सपा ने बनवाए थे 'लवर्स पार्क', बीजेपी लगाएगी 'प्यार पर पहरा': डिंपल यादव का दावा

अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव ने यूपी चुनाव में युवाओं को समाजवादी पार्टी की तरफ आकर्षित करने का नया दांव चला है. कन्नौज से सांसद डिंपल ने दावा किया है कि सपा सरकार ने अपने कार्यकाल में युवा प्रेमियों के लिए सुरक्षित पार्क बनाए थे. लेकिन बीजेपी सरकार आई तो उनके प्यार पर पहरा लग सकता है.
लखनऊ की सरोजिनीनगर विधानसभा सीट पर एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए डिंपल ने गुरुवार को यह बात कही.  डिंपल ने युवाओं को सावधान किया कि वो बीजेपी के एंटी रोमियो स्क्वाड के बहकावे में न आएं. बीजेपी में अपने घोषणा पत्र में महिलाओं से छेड़छाड़ रोकने के लिए एंटी-रोमियो स्क्वाड बनाने की बात कही है.
डिंपल ने कहा कि दरअसल बीजेपी की सरकार बनने पर यही स्क्वैड एंटी-रोमियो-जूलिएट स्क्वैड के तौर पर काम करेगा और प्रेमी जोड़ों को प्रताड़ित करने और उन्हें अपना जीवनसाथी चुनने की आजादी को खत्म कर देगा.
सपा प्रत्याशी अनुराग यादव के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए डिंपल ने कहा, “सपा सरकार ने जनेश्वर मिश्र पार्क सहित कई ऐसी जगहें बनाई हैं जहां सुरक्षित वातावरण है. इन पार्कों में आप अपने बच्चों के साथ खेल सकते हैं, अपनी मां, पत्नी और यहां तक कि अपनी गर्लफ्रेंड को भी ले जा सकते हैं."
हालांकि डिंपल ने साफ़ तौर पर नहीं कहा लेकिन उनका इशारा भगवा ब्रिगेड द्वारा लव जिहाद और वैलेंटाइन डे के विरोध को लेकर ही था. डिंपल ने आगे कहा कि सपा सरकार ने डायल 100 के जरिये न केवल पुलिसिंग में सुधार किया है बल्कि महिला हेल्पलाइन नंबर 1090 से करीब 6 लाख लड़कियों को मनचलों से बचाया है.
बीजेपी पर हमला करते हुए डिंपल ने कहा कि उनके नेता यह कहकर भ्रम फैला रहे थे कि यूपी में साढ़े चार मुख्यमंत्रियों का शासन है. लेकिन वही लोग जो यह भ्रम फैला रहे थे आज एक मुख्यमंत्री का चेहरा तक नहीं दे सके. वहीं अखिलेश एक सफल नेता के रूप में उभरे हैं और प्रदेश को विकास की राह पर लेकर आगे बढ़े हैं.