भाजपा सरकार के 100 दिन पूर्ण होने पर कांग्रेस ने काला दिवस के रूप में मनाते हुए काली पट्टी व काले झण्डे दिखाये* - Aapki Awaaz

Breaking

आपकी आवाज़ वेब न्यूज़ पोर्टल व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 94251590730 पर व्हाट्सएप्प करें.....प्रदेश, संभाग, जिला, तहसील और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

भाजपा सरकार के 100 दिन पूर्ण होने पर कांग्रेस ने काला दिवस के रूप में मनाते हुए काली पट्टी व काले झण्डे दिखाये*

Vishnu sharma 
Place - ujjain - nagda


*भाजपा सरकार के 100 दिन पूर्ण होने पर कांग्रेस ने काला दिवस के रूप में मनाते हुए काली पट्टी व काले झण्डे दिखाये* 

*भाजपा द्वारा 22 विधायकों की खरीद फरोख्त - लोकतंत्र की हत्या*



नागदा जं.। आज कांग्रेस ने पूरे प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी द्वारा 22 विधायकों की खरीद फरोख्त की जुगाड कर कांग्रेस सरकार को गिराकर भाजपा की सरकार बनाकर लोकतंत्र की हत्या की है जिसे आज कांग्रेस ने काला दिवस के रूप में मनाया। यह बात विधायक दिलीपसिंह गुर्जर ने भाजपा सरकार के 100 दिन पूर्ण को काला दिवस के रूप में मनाते हुए काली पट्टी व काले झण्डे दिखाते हुए किये गये प्रदर्शन के दौरान कहीं।

श्री गुर्जर ने कहां है कि जनता द्वारा कांग्रेस को पांच साल सरकार चलाने हेतू मेण्डेंट दिया था कांग्रेस की कमलनाथ सरकार जनहित में लगातार कार्य कर रही थी। उनकी लोकप्रियता से घबराकर कमलनाथजी का पुतला पुरे देश में न जलाते हुए सिर्फ म.प्र. में ही जलाया उससे ही इनका झुठ उजागर हो गया कि कमलनाथ जी ने चीन को कोई फायदा नहीं पहुॅंचाया है। भविष्य में अपना जनाधार सरकता देख सत्ता व पैसे की राजनैतिक महत्वाकांक्षा पाले राजनैतिज्ञों द्वारा चुनी हुई सरकार को गिराने हेतू इस्तीफा देकर भाजपा का रास्ता प्रशस्त किया है। सत्ता हत्याने की भाजपा की अतुरता यह दर्शाती है कि जनता के मताधिकार का अपमान कर वो किसी भी स्तर तक जाकर सत्ता प्राप्त कर सकती है। एक तरह से ये लोकतंत्र का अपहरण है। यदि ऐसा चलता रहा तो भारत का लोकतंत्र भी खतरे में पड सकता है।
श्री गुर्जर ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधीजी ने दल बदल कानून लाकर खरीद फरोख्त पर अंकुश लगाने का प्रयास किया था लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने सरकार बनने पर उन्हें मंत्री तथा अन्य लाभ का लालच देकर एक नया रास्ता निकालकर विधायकों से इस्तीफे दिलवाकर कानून के साथ छेडछाड की है जिससे जनता के मन में डर व भय बैठ गया है यदि वह किसी विधायक को चुनती है तो वह भविष्य में अपने हितों की खातिर उसके मतों का सौदा कर अन्य पार्टी में चला जायेगा जिससे की आम जनता का राजनीतिज्ञों से विश्वास उठा है। अब ऐसा कानून बनना चाहिए कि यदि कोई विधायक इस्तीफा देकर अन्य पार्टी में ज्वाईन करता है तो उसे 6 साल तक कोई भी चुनाव लडने व नाॅमीनेट करने पर रोक लगना चाहिए तभा हमारा लोकतंत्र सुरक्षित रह पायेगा।
प्रदर्शन को जिला कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष सुबोध स्वामी ने सम्बोधित करते हुए कहा कि आज से 100 दिन पहले भारतीय जनता पार्टी के नेताओं नरेन्द्र मोदी, अमित शाह, शिवराजसिंह चैहान द्वारा भारतीय संविधान के मुल्यों को ताक पर रख लोकतंत्र की हत्या कर 22 विधायकों को करोडों रूपये की खरीद फरोख्त कर जनहित में कार्य कर रही कांग्रेस की कमलनाथ सरकार को गिराया था। भारतीय जनता पार्टी की नीतियों के कारण आज देश विषम परिस्थिति से गुजर रहा है मंहगाई चरम पर है बेरोजगारी से युवा बेहाल है किसान और मजदुर आर्थिक तंगी के कारण बेबस हो गये है वहीं सीमा पर चीन द्वारा भारतीय सीमाओं पर कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन भाजपा को इन गंभीर मुद्दों से कोई मतलब नहीं वर्तमान में उनका सिर्फ एक ही उद्देश्य है कि आमजन के मताधिकार से चुनी हुई सरकारों को विधायकों की खरीद फरोख्त कर गिराया जाये जो कि निंदनीय है।
प्रदर्शन को शहर कांग्रेस अध्यक्ष राधे जायसवाल, सरनामसिंह चैहान, रघुनाथसिंह बब्बु, निशा चैहान, सेवालाल यादव, दिनेश ररोतिया, सुरेश रघुवंशी, जगदीश मिमरोट, साबीर पटेल आदि ने सम्बोधित किया।
इस अवसर पर पार्षद योगेश मीणा, महेन्द्र यादव, संदीप चैधरी, साईराम सेन, अमित राठौर, जगदीश मालवीय, कन्हैया मिश्रा, नरसिंह सिसौदिया, कैलाश राठौर, विशाल गुर्जर, जितेन्द्र कुशवाह, विजय गुर्जर, मोतीसिंह गुर्जर, अशोक मीणा, भानू सिंह, विष्णु गुर्जर, अर्जुन गुर्जर आदि उपस्थित थे।


*आपकी आवाज**संपादक**7999057770*