पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन जबलपुर ने जोन में पदस्थ प्रशिक्षु उप निरीक्षकों के कार्यो की, की समीक्षा, दिये आवश्यक दिशा-निर्देश* - Aapki Awaaz

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Tuesday, June 23, 2020

पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन जबलपुर ने जोन में पदस्थ प्रशिक्षु उप निरीक्षकों के कार्यो की, की समीक्षा, दिये आवश्यक दिशा-निर्देश*

*पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन जबलपुर ने जोन में पदस्थ प्रशिक्षु उप निरीक्षकों के कार्यो की, की समीक्षा,  दिये आवश्यक दिशा-निर्देश*
Add caption

          पुलिस कन्ट्रोलरूम जबलपुर में श्री भगवत सिंह चैहान (भा.पु.से.) पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन, जबलपुर के द्वारा स्वयं 91वंें बैच के जोन के जिलों मे पदस्थ परीवीक्षाधीन उप निरीक्षकों के द्वारा किये गये कार्यो की समीक्षा पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.), अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दक्षिण डाॅ. संजीव उइके, सहायक पुलिस महानिरीक्षक (पु.म.नि. कार्यालय जबलुपर जोन जबलपुर ) श्री एच.पी. चैधरी की उपस्थिति में की गयी, एवं उन्हें मैदानी कार्य करने के सम्बंध में तार्किक समझाईश एवं सुझाव दिये गये ।

               पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन जबलपुर ने कहा कि प्रशिक्षण एक महत्वपूर्ण पड़ाव होता है, जिसमें आपको प्रतिदिन विवेचना से सम्बंधित नये-नये तरीके सीखने को मिलते हैं, जब आपको कानून का अच्छा ज्ञान होगा तभी आप निर्भीक होकर कोई भी कार्यवाही कर सकेंगे। यदि अभी आपने नहीं सीखा तो आगे कभी भी नहीं सीख पायेंगे। इन्वेस्टिगेशन आपका मुख्य कार्य है, अपराध की विवेचना में आपका राईटिंग वर्क स्ट्रांग होना चाहिये जहाॅ भी कोई कठिनाई आती है, अपने वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा कर समस्या का समाधान करें। आने वाले समय में आप थाना प्रभारी होंगें, उस दौरान आपके लिये दो महत्वपूर्ण पहलू  अपराध विवेचना एवं कानून व्यवस्था बनाये रखना होंगे। आपको लीडरशिप एवं मैनपावर मैनेजमेंट आना चाहिये, यह आप तभी कर पायेंगे जब आपको थाने की कार्यप्रणाली का अच्छा ज्ञान होगा।
                  पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) ने कहा कि वर्तमान समय में इंटरनेट पर सभी प्रकार की जानकारी उपलब्ध हैं, एफ.आई.आर. स्वयं लिखें, विवेचना के दौरान जप्ती, नक्शा मौका, कथन, सभी कार्यवाहियाॅ स्वयं करते हुये चालानी कार्यवाही करें,  बेसिक पुलिसिंग आपको आनी चाहिये, हमेशा अपने आपको लर्निंग फेस में रखें, जब भी थाने फरियादी आता है स्वयं सुनें, जब आप स्वयं सुनेंगे तभी आपको उनकी परेशानी को समझ पायेंगे और विधि सम्मत कार्यवाही कर पायेंगे,।
                  आप क्षेत्र में भ्रमण करते हुये क्षेत्र मे रहने वाले राजनैतिक एवं गणमान्य नागरिकों  एवं धर्मगुरूओं से सीधा संवाद करें इससे कानून व्यवस्था की स्थिति निर्मित होने पर उत्पन्न स्थिति को नियंत्रित करने मे आपको काफी मदद मिलेगी। आपको क्षेत्र के असामाजिक तत्वों एवं अच्छे लोगो की पहचान होना चहिये, सभी समस्याओं का समाधान लोकतांत्रित तरीके से नियमानुसार करें, आपको कहीं भी कोई परेशानी नहीं आयेगी। छोटी से छोटी घटना, की सूचना मिलने पर तत्काल पहुॅचे एवं विधि सम्मत कार्यवाही करें, किसी भी घटना को अनदेखा न करें, कार्यवाही निष्पक्ष हो इस बात का विशेष ध्यान रखें। 
              इसके साथ ही आपने अपराधों पर कैसे नियंत्रण किया जा सकता है, अपराधियों से कैसे पूछताछ करनी चाहिये, व्हीआईपी एवं व्हीव्हीआईपी ड्यूटी के दौरान विशिष्ठ व्यक्ति की सुरक्षा कैसे करना है, के सम्बंध में भी विस्तार से जानकारी दी गयी।

 संपादक
  प्रशांत वैश्य

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here