बालाघाट जिले के महाविद्यालय वारासिवनी BCI आदेश की उड़ा रहा है धज्जियां - Aapki Awaaz

Breaking

आपकी आवाज़ वेब न्यूज़ पोर्टल व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 94251590730 पर व्हाट्सएप्प करें.....प्रदेश, संभाग, जिला, तहसील और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

बालाघाट जिले के महाविद्यालय वारासिवनी BCI आदेश की उड़ा रहा है धज्जियां

बालाघाट जिले के महाविद्यालय वारासिवनी BCI आदेश की उड़ा रहा है  धज्जियां 



 *प्राचार्य सरीता कोलेकर नहीं करा पा रहीं ऑनलाईन क्‍लासें से छात्र व छात्राऐं का सम्‍पूर्ण कोर्स* 


 L.L.B के छात्र व छात्राऐं को अपने  सम्‍पूर्ण कोर्स की चिन्‍ता की मॉग को लेकर प्राचार्य सरीता कोलेकर जी के पास ऑनलाईन क्‍लासें की मॉंग को लेकर गए। लेकिन प्राचार्य मेडम के द्वारा उन्‍हें नहीं माना जा रहा है। जबकि BCI के आदेश के अनुसार L.L.B के छात्र व छात्राऐं को उनकी पड़ाई में रोक नहीं लगाई जा सकती । जबकि प्राचार्य सरीता कोलेकर जी के द्वारा जनभागीदारी के शिक्षक को बजट का बहाना से बिना ऑनलाईन कोर्स कम्‍पीलीट करे बगैर ही

 जनभागीदारी शिक्षक का निकाल दिया गया। जब हमारे द्वारा प्राचार्य सरीता कोलेकर जी सवाल पूछा गया कि प्राचार्य मेडम आपके पास ऐसा कोई आदेश है कि आप ने जो जनभागीदारी को निकाल तो मेडम के द्वारा हमें सही जवाब नहीं दिया गया। और के छात्र व छात्राऐं पर राजनिति करने का आरोप लगाया । छात्र व छात्राऐं ने इसके पहले भी 12-05-2020 को शास. एस. एस. पी महाविद्यालय वारासिवनी को ज्ञापन सौपा था। कि आप ऑनलाईन क्‍लासें को संचालित रकें । लेकिन महाविद्यालय के प्राचार्य मेडम के द्वारा इस मॉग को नहीं माना गया। इसी बीच मौजूद छात्र रजत,नन्‍दलाल,रितेश, और विलाश ने जानकारी दी ।


*आपकी आवाज*  *संपादक**7999057770