*सचिव व सरपंच द्वारा फर्जी तरीके से फर्जी वेंडर बनाकर बिल पास किये जाने का मामला आया सामने* - Aapki Awaaz

Breaking

आपकी आवाज़ वेब न्यूज़ पोर्टल व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 94251590730 पर व्हाट्सएप्प करें.....प्रदेश, संभाग, जिला, तहसील और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

*सचिव व सरपंच द्वारा फर्जी तरीके से फर्जी वेंडर बनाकर बिल पास किये जाने का मामला आया सामने*

*सचिव व सरपंच द्वारा फर्जी तरीके से फर्जी वेंडर बनाकर बिल पास किये जाने का मामला आया सामने*


*पुर्व सरपंच ने लगाये गम्भीर आरोप - सामुदायिक भवन में हुवा है भ्रष्टाचार।*



खाचरौद- जनपत पंचायत खाचरौद के ग्राम मडावदी पंचायत दुपड़ावदा में सामुदायिक भवन का निर्माण कार्य किया जा रहा है कार्य को प्रारंभ हुवे लगभग एक वर्ष से अधिक का समय बित चुका है जिसकी राशि मध्यप्रदेश शासन द्वारा 12 लाख रुपय स्वीकृत की गई है। जिसमें से 6 लाख रुपय ग्राम पंचायत दुपड़ावदा को मिल चूके है।
पुर्व सरपंच कैलाश चन्द्र मालवीय ने कहाँ कि मेरे द्वारा 6 लाख का कार्य किया गया,कार्य के दौरान मेरे द्वारा मजदूरी राशि व अन्य बिल की राशि जैसे सलिया,सीमेंट,रेती आदी के बिल मेरे द्वारा सचिव प्रभुलाल  भीलवाड़ा को दिये गये किन्तु सचिव द्वारा आज तक बहाने बनाते हुवे कहाँ गया की अभी राशि प्राप्त नही हुई है जब प्राप्त होगी तो बिल ले लूंगा। वही सचिव प्रभुलाल व सरपंच भेरुलाल डाबी को मेरे द्वारा दिये गये बिल श्री विश्वकर्मा स्टील की जगह नागेश्वर कंट्रक्सन के नाम के फर्जी बिल लगा कर बिल का भुगतान करवा लिया गया। सचिव के भाई के नाम से फर्जी कंपनी बना कर यह फर्जीवाड़ा किया गया है।

जब इस पुरे विषय की पडताल की गई तो पता चला की जो बिल सामुदायिक भवन में लगे मटेरियल के लगाये गये है जिसमें नागेश्वर कंस्ट्रक्शन एंड सप्लायर नाम का ग्राम टकरावदा में कोई आफिस या दुकान ही नही है जहाँ रेत, मोरम, बोल्डर, ईट, गिट्टी, वाइट ब्रेटर, सरिया, सेटिंग, डम्पर, रोड़ रोलर, दरवाजे आदी देखेने को मिले।

सचिव प्रभू लाल व सरपंच भेरुलाल डाबी के द्वारा फर्जिवाड़ा करके नागेश्वर कंस्ट्रक्शन के नाम से फर्जी बिल बनाया गया तथा शासन से छोटे छोटे टुकड़ो में लगभग 6 लाख रुपय स्वीकृत करा लिये गये। जिसका रिकार्ड पंचायत एवं ग्रामीण विकास पोर्टल पर दर्ज है। जिसकी जिसकी शिकायत पुर्व सरपंच कैलाश परमार ने जंनपत पंचायत खाचरौद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को की है।



*आपकी आवाज **संपादक*,,*7999057770*