*कर्ज मांफी के नाम पर सरकार गिराने से किसानों को हुए नुकसान का बागी पूर्व विधायक कैसे करेगें भरपाई - विधायक गुर्जर* - Aapki Awaaz

Breaking

आपकी आवाज़ वेब न्यूज़ पोर्टल व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 94251590730 पर व्हाट्सएप्प करें.....प्रदेश, संभाग, जिला, तहसील और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

*कर्ज मांफी के नाम पर सरकार गिराने से किसानों को हुए नुकसान का बागी पूर्व विधायक कैसे करेगें भरपाई - विधायक गुर्जर*

*कर्ज मांफी के नाम पर सरकार गिराने से किसानों को हुए नुकसान का बागी पूर्व विधायक कैसे करेगें भरपाई - विधायक गुर्जर*


नागदा जं.। कर्जमाफी की घोषणा को लेकर कांग्रेस की सरकार बनाने वाले 22 विधायकों 6 मंत्रियों द्वारा जनता से धोखाधडी करते हुए सरकार गिरा दी अब भाजपा मे गये इन मंत्रियो विधायको का दायित्व है कि वह भाजपा सरकार से कर्जमांफी करवाये और किसानो के नुकसान की भरपाई कराये यदि नहीं करा सकते तो आगामी उप चुनाव में वोट लेने का अधिकार भी उनको नहीं है
और कर्जमाफी नही होने पर किसानों को उप चुनाव मे ऐसे लोगों से बदला लेना चाहिये। यह बात ग्राम बैरछा में कमलदीप गौशाला के उद्घाटन अवसर पर मुख्य अतिथि विधायक दिलीपसिंह गुर्जर ने कहीं।
श्री गुर्जर ने कहां कि कमलनाथ सरकार में जो मंत्री थे, केबिनेट की बैठक में कर्जमाफी के जो भी फैसले होते थे उसमें वह भी सहभागी थे तो उस समय उन्होंने विरोध क्यों नहीं किया ? व अपने क्षैत्रों में जाकर किसानों के जय किसान ऋण मांफी योजना के प्रमाण-पत्र क्यों वितरित किए ? जो मंत्री कांग्रेस सरकार में थे दल बदलने के बाद भी भाजपा में जाकर भी मंत्री बने है। किसानों की कर्ज मांफी के नाम पर कमलनाथ सरकार गिराने पर किसानों को क्या फायदा हुआ ? 50 से 1 लाख तक के ऋण जो कमलनाथ सरकार ने मांफ किये थे उसका पैसा भाजपा सरकार से क्यों नहीं डलवाया ? इसका जवाब पूर्व विधायकों, मंत्री व भाजपा को देना चाहिए।
पहले भाजपा सरकार से कर्जमाफी करवाऐं फिर उपचुनाव में जाऐं
श्री गुर्जर ने कहां कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति को देखते हुए कमलनाथजी द्वारा तीसरे चरण की 1 से 2 लाख तक की ऋण मांफी की प्रक्रिया पुरी कर रहे थे परंतु विधानसभा में बजट पेश होने के पूर्व ही कांग्रेस के 22 विधायकों द्वारा भाजपा के साथ मिलकर कर्ज मांफी के नाम पर सरकार को गिराया है, तो यह क्या बागी पूर्व विधायक, मंत्री मुख्यमंत्री शिवराजसिंह से किसानों का 2 लाख तक का कर्ज मांफी के हुए नुकसान की भरपाई शिवराज सरकार से 2 लाख का कर्ज मांफ कराने की हिम्मत जुटायेगें? उनके इस कदम से किसानों के साथ-साथ युवा, मजदुर तथा आम जनता अपने आप को ठगा हुआ महसुस कर रही है।
1 करोड 4 लाख के कार्यो का लोकार्पण भी किया
आज बैरछा मंे कुल 1 करोड 4 लाख के विभिन्न कार्यो जिसमें महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना अन्तर्गत 27.72 से निर्मित कमलदीप गौशाला का लोकार्पण तथा 30 लाख की लागत से पंचपरमेश्वर निधि से निर्मित सी.कां. रोड का लोकार्पण, महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना अन्तर्गत 4.50 लाख से निर्मित शांति शेड निर्माण, 12.51 लाख की लागत से सुदूर सडक व 4.50 लाख की लागत से नीर कुप का लोकार्पण किया गया व आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा स्वीकृत 3.50 लीाख से अनुसूचित जाति बस्ती में सी.कां. रोड का लोकार्पण व 20 लाख से निर्मित शासकीय हाई स्कूल की बाउण्ड्रीवाल का लोकार्पण किया गया।
इस अवसर पर अतिथियों द्वारा गौ माता को चारा खिलाकर गौ शाला में प्रवेश कराया गया तथा परिसर में पौधा रोपण भी किया गया।
यह थे उपस्थित
लोकार्पण अवसर पर जिला कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष सुबोध स्वामी, शहर कांग्रेस अध्यक्ष राधे जायसवाल, सरपंच बद्रीलाल बामनिया, सुरेन्द्रसिंह गुर्जर मोकडी, जिला पंचायत सदस्य बापुलाल डाबी, विशाल गुर्जर, नंदलाल पटेल, जगदीश शर्मा, शांतिलाल पटेल, बापुसिंह पंवार, गोपाल जी पटेल, मदनलाल जी मण्डी डायरेक्टर, धुल जी शर्मा, ईश्वरसिंह गुर्जर, नागुसिंह गुर्जर, रवि शर्मा, पन्नालाल धाकड, शैलेन्द्रसिंह पंवार, उमरावसिंह गुर्जर, ओमप्रकाश पटेल, भंवरसिंह पंवार, दरबारसिंह कलसी, मानसिंह गुर्जर, राजेश राठौर मण्डी डायरेक्टर, कान्हा बैरछा, मांगुसिंह गुर्जर डाबरी, ओम पटेल व ग्रामीणजन उपस्थित थे।
गोशाला का नाम रखा कमलदीप
सरपंच बद्रीलाल बामनिया द्वारा आभार व्यक्त करते हुए कमलदीप गौशाला रखने के संबंध में स्पष्ट करा कि कमल से कमलनाथ दीप से दिलीप गुर्जर दोनों के सम्मिलित नाम के रूप में कमलदीप गौशाला रखा गया है।

*आपकी आवाज*
**संपादक**
* 7999057770*