जल जीवन मिशन के अन्तर्गत प्रत्येक घर को मिलेगा नवीन नल कनेक्शन, नर्मदा का जल पहुँचे हर घर, यही प्रयास होगा मेरा - शेखावत - Aapki Awaaz

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Friday, July 10, 2020

जल जीवन मिशन के अन्तर्गत प्रत्येक घर को मिलेगा नवीन नल कनेक्शन, नर्मदा का जल पहुँचे हर घर, यही प्रयास होगा मेरा - शेखावत

जल जीवन मिशन के अन्तर्गत प्रत्येक घर को मिलेगा नवीन नल कनेक्शन, नर्मदा का जल पहुँचे हर घर, यही प्रयास होगा मेरा - शेखावत


नागदा -पूर्व विधायक दिलीपसिंह शेखावत ने एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्रजी मोदी ने 15 अगस्त 2019 को घोषणा की थी कि वर्ष 2024 तक हिन्दुस्तान के प्रत्येक गांव के प्रत्येक घर तक नल कनेक्शन देने का प्रयास केन्द्र सरकार का होगा।

शेखावत ने बताया कि मध्यप्रदेश में विगत दिवस कांग्रेस सरकार में इस योजना पर कोई काम नहीं हुआ। वर्तमान में भा.ज.पा. सरकार इस योजना को लेकर काफी गंभीर है एवं इस योजना में दो लाख नल कनेक्शन जुलाई अंत तक पुरा करने का लक्ष्य रखा है।
इस योजना के लिये में दिनांक 6, 7 एवं 8 जुलाई 2020 को माननीय मुख्यमंत्री शिवराजसिंह जी चैहान, जल निगम बोर्ड भोपाल एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी प्रमुख सचिव श्री मलैय श्रीवास्तव जी से प्रत्यक्ष में भेंट कर पत्र देकर योजना को नागदा-खाचरौद विधानसभा में स्वीकृत कर क्षेत्रवासियों को सौगात देने हेतु निवेदन किया जिसे मानते हुए प्रथम चरण में जल जीवन मिशन योजना अंतर्गत 35 ऐसे गांव जहाँ पुर्व से नल-जल योजना संचालित है जैसे- मड़ावदा, भुवासा, बंजारी, सेदरी, भैंसोला, उँचाहेड़ा, खामरिया, बिरियाखेड़ी, अजीमाबाद पारदी, नायन, भीलसुड़ा, कनवास, संदला, बड़ागाँव, पचलासी, बेड़ावन्या, कमठाना, बुरानाबाद, बरथून, चापानेर, चापाखेड़ा, आक्याजागीर, बिलवानिया, बटलावदी, नरसिंगगढ़, खेड़ावदा, सिमरोल, बरखेड़ा जावरा, घुड़ावन, पाड़सुतिया, भीकमपुर, नंदवासला, नंदियासी, भाटीसुड़ा और घिनोदा ऐसे गांव है और 22 गांव बेरछा, रजला, कलसी, अलसी, निपानिया, परमारखेड़ी, भगतपुरी, किलोड़िया, झिरमिरा, गिंदवानिया, खजुरिया, अटलावदा, निनावटखेड़ा, टुटियाखेड़ी, बनबना, राजगढ़, गिदगढ़, भीमपुरा, मोकड़ी, तारोद, चंदोड़िया, दिवेल  जिनमें समुह नल-जल योजना से म.प्र. जल निगम भोपाल द्वारा क्रियान्वित की गयी है । इन 22 गांवो में परीक्षण उपरांत शुद्ध पेयजल उपलब्ध होगा।
इन 57 गांवो में योजना के मूर्तरूप लेकर वर्ष 2020-21 एवं 2021-22 तक घर-घर कुल 35 ग्रामो के 11400 परिवारों को शुद्ध पेयजल मिलने लगेगा एवं शेष ग्रामों में वर्ष 2023-24 तक योजना मूर्तरूप ले ऐसा प्रयास रहेगा। शेखावत ने बताया कि 6, 7 एवं 8 जुलाई को जब मैं भोपाल में था तब मैंने माननीय मुख्यमंत्री एवं प्रमुख सचिव मलैय श्रीवास्तव जी को यह बात अवगत कराई कि नागदा खाचरौद विधानसभा में भूजल स्तर काफी नीचे है। 1000 से 1200 फीट पर भी कुछ गांवों में पानी नहीं है। ऐसे में अगर सतह नल जल योजना नहीं बनाई तो घर-घर नल कनेक्शन का सपना पूरा नहीं हो पायेगा। ऐसे में मेरे द्वारा जो नर्मदा का पानी आने वाले वर्षो में चम्बल में आयेगा इस योजना को नर्मदा जल से जुड़ने का निवेदन किया। इस निवेदन को इन दोनो ने स्वीकार कर आश्वासन दिया है।
शेखावत ने बताया कि यह मेरे लिये सौभाग्य की बात है कि मेरे द्वारा पिछले कार्यकाल में 10 करोड़ की लागत से अंशदान योजना, मुख्यमंत्री योजना एवं सांसद आदर्श योजना में 14 ग्रामों में गे्रसिम, केमिकल के सी.आर.एस. फण्ड के सहयोग से नवीन नल-जल योजना एवं अन्य योजनाओं से कुल 30 नल जल योजना स्वीकृत कराने से आज ये गांव इस जल जीवन योजना में पात्रता रखते है एवं इन ग्रामों में हर घर नल कनेक्शन दिया जा सकेगा।
शेखावत ने बताया कि 70 सालों में क्षेत्र में मात्र 5-7 नल-जल योजना थी और आज विधानसभा के 134 ग्रामों में से 57 ग्रामों में नल-जल योजना संचालित है जिससे इन ग्रामो के प्रत्येक घर को नवीन नल कनेक्शन मिल सकेगा। ग्रामीण महिलाओं की परेशानियों दूर होगी। साथ ही बचे हुए 77 गांवो में भी मैंने पर्याप्त जल की व्यवस्था नवीन ट्यूबवेल खुदवा कर की है।
शेखावत ने बताया कि पिछले मेरे 5 वर्षो के कार्यकाल में मेरी विधानसभा में वाटर लेवल बहुत नीचे चला गया था जिसे बढ़ाने हेतु एक प्लाानिंग बनाकर पुरे क्षेत्र में वाटर लेवल बढ़ाने हेतु 31 करोड़ रूपये से 11 नवीन डेम, 1 तालाब एवं 3 तालाबों की मरम्मत कार्य करवायी जिससे क्षेत्र का वाटर लेवल बढ़ गया । ऐसे गांव जहां का वाटर लेवल काफी नीचे जा चुका था जैसे चापाखेड़ा, बड़ागांव, कुम्हारवाड़ी, भाटखेड़ी, कुटलाना, लेकोड़िया टांक, फर्नाखेड़ी, बेड़ावन्या, रजला, लुसड़ावन, पानवासा, कलसी, कमठाना, बुरानाबाद, नरसिंहगढ़, टुटियाखेड़ी, बनवाड़ा, बेरछा, घिनोदा, आक्या, चापानेर, सकतखेड़ी, चिरोला इन ग्रामों में करीब 5 करोड़ की विधायक निधि, सांसद निधि, राज्यसभा निधि, भोपाल से विशेष निधि लाकर 1000 फीट के ट्यूबवेल कराये गये ताकि ग्रामीणों को पानी की समस्या उत्पन्न ना हो इसके लिये 110 ट्यूबवेल, 105 टेंकर और 50 से अधिक मोटर पम्प विधायक निधि से स्वीकृत की । साथ ही सांसद निधि एवं राज्यसभा निधि से 20 ट्यूबवेल एवं 30 मोटर पम्प स्वीकृत कराये गये थे।  जिससे आज ग्रामों में पेयजल समस्या काफी हद तक सुधर गयी है।
शेखावत ने बताया कि नदी किनारे वाले दुषित जल से प्रभावित भगतपुरी, परमारखेड़ी, किलोड़िया, निनावटखेड़ा आदि ग्रामों में गे्रसीम के सहयोग से टेंकर द्वारा पानी सप्लाई कराया गया ताकि ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल प्राप्त हो सके।
शेखावत ने बताया कि मेरे द्वारा जनसहयोग निधि से मीण, अर्जला, फर्नाखेड़ी, लेकोड़िया टांक, लुसड़ावन में नल-जल योजना का अंशदान सीआरएस फण्ड से जमा करवाया गया था किन्तु वर्तमान विधायक श्री दिलीपसिंह गुर्जर जी  द्वारा विगत 18 माह में भी इन योजनाओं को स्वीकृत नहीं करवा पाये है।
शेखावत ने बताया कि मेरे द्वारा पिछले कार्यकाल में प्रयास किया गया कि नर्मदा का जल चम्बल नदी में आये जिन्हें पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजयसिंह ने हास्यास्पद बताते हुए कहा था कि यह संभव ही नहीं है। किन्तु आज हमने कर दिखाया । नर्मदा का जल चम्बल में मिलेगा। अब 35 ग्रामों के घर-घर तक नर्मदा का जल पहुंचेगा। यह भी इन्हें हास्यास्पद लगेगा किन्तु मेरे द्वारा माननीय मुख्यमंत्रीजी से चर्चा में मुख्यमंत्री जी ने इसे गंभीरता से लेते हुए मुझे आश्वस्त किया कि इस प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार करेंगे।
शेखावत ने आगे बताया कि जल जीवन मिशन योजना को धरातल पर लाने एवं प्रत्येक परिवार को शुद्ध पेयजल मिलने हेतु जल शक्ती मंत्री श्री गजेन्द्रसिंह शेखावत, सामाजिक न्याय मंत्री भारत सरकार श्री थावरचंद जी गेहलोत, सांसद श्री अनिल जी फिरोजिया द्वारा लगातार प्रयास किया जा रहा था। मैं इनका आभार मानता हूं। आज इसी का परिणाम है कि मेरी विधानसभा क्षैत्र को इतनी बड़ी सौगात मिल रही है।


**आपकी आवाज****संपादक****7999057770**

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here